देश में बेरोजगारी की दर वित्त वर्ष 2017-18 में बढ़ कर 6.1 फीसदी पर पहुंची

0 109

पढ़ लिख कर बनना था बाबू लेकिन बन गए बेरोजगार

कांग्रेस ने नौकरी संवाद अभियान के अंतर्गत बाराबंकी में भी लगाया कैंप

 

बाराबंकी :  देश मे बेरोजगारी चरम सीमा पर पहुंच गयी है बैंक  दिवालिया घोषित हो रहे हैं, कारखाना बंद हो रहे हैं ये देश के लिए चिंताजनक है, आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में पिछले 30 सालों में नामचीन कारखाने भी बंद हो गए हैं मिले दस्तावेजों के अनुसार अब तक 56 चीनी मिल बंद हो चुकी हैं पल्प पेपर के 33 कारखाने बंद हो चुके हैं, तथा आबकारी के 27 कारखाने अपनी बदहाल स्थिति होने के बाद दम तोड़ चुके हैं वही 59  बड़े कपड़े के कारखाने बंद हो गए हैं 442 चमड़ा फैक्ट्री बंद हो गई है और इन्हें बंद होने का हवाला यह दिया गया कि चमड़ा फैक्ट्रियों से प्रदूषण फैल रहा है और पर्यावरण दूषित हो रहा है

 

इसी तरीके से हजारों अन्य छोटी मोटी कंपनियां बंद हो गई हैं,जिनसे लाखों काम करने वाले वर्कर बेरोजगार हो गए हैं जो अब गांव में छोटे-मोटे काम कर अपने परिवार का भरण पोषण कर रहे हैं, यहां तक कि देखने में आया है कि स्नातक परास्नातक होने के बाद भी सड़कों के किनारे ठेले पर सब्जी लगाने के साथ-साथ कई तरह की दुकानें लगा रहे हैं, उनका कहने का मतलब साफ है कि सरकार ना तो किसी भी प्रकार की नौकरी निकाल रही है ना ही रुकी हुई भर्तियों को पूरा कर रही हैं, शिक्षित बेरोजगारी झेल रहे युवा कहते हैं कि अगर इसी तरीके से सरकार सरकार चलाएगी तो जल्द ही देश मंदी के दौर में गुजरेगा और गुजर भी रहा है। जानकारी दे दे की केंद्र सरकार ने जुलाई 2020 के बाद भर्ती पर रोक लगा दी है। चाहे इसकी वजह कोरोना के कारण आर्थिक तंगी बताई जा रही हो, लेकिन सच तो यह है कि मोदी सरकार के कार्यकाल में युवाओं की बेरोजगारी साल दर साल बढ़ती गयी है।

 

सरकार ने बेरोजगारी के आंकड़े छुपाने की कोशिश भी की। सरकार युवाओं को नौकरियाँ देने में विफल रही है। इसी को देखते हुए कांग्रेस अब शिक्षित बेरोजगारी झेल रहे युवा व अन्य बेरोजगारों से जुड़ कर उनका हितेषी बताने का काम कर रही है ,सत्ता से बेदखल होने के बाद तीन दशक में युवाओं से काफी दूर हो चुकी कांग्रेस अब उनसे रोजगार के मुद्दे से जुड़ना चाहती है। युवा दिवस यानी स्वामी विवेकानंद की जयंती के साथ ही राष्ट्रीय महासचिव व यूपी प्रभारी प्रियंका वाड्रा के जन्मदिन से नौकरी संवाद अभियान का शुभारंभ कर युवाओं को बेरोजगारी  फॉर्म भरवा कर उनको सरकार आने के बाद नौकरी देने का वादा कर रही है कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता विश्व विद्यालय इंटर कॉलेज पोस्ट ग्रेजुएट कॉलेज के सामने कैंप लगाकर युवाओं से फॉर्म  भरवा रहे हैं।

 

नौकरी संवाद अभियान उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से सटे जनपद बाराबंकी के जवाहरलाल नेहरू पोस्ट ग्रेजुएट कॉलेज के सामने कैंप लगाकर युवाओं को नौकरी संवाद के बारे में भी बताया और उनका फार्म भी भरवाया गौरतलब है कि इस नौकरी संवाद अभियान से युवाओं को रोजगार मिले या ना मिले लेकिन एक बात साफ है कि कांग्रेस पार्टी बीजेपी की छवि बेकार करने में जरूर कामयाब होगी क्योंकि देश में बेरोजगारी चरम पर है और इसी का फायदा लेकर समाज में बेरोजगारी का प्रतिशत और पूरा बायोडाटा शिक्षित बेरोजगारी झेल रहे युवाओं को जब दिखाएगी तो युवाओं का मन जरूर कांग्रेस की तरफ खींचता हुआ नजर आएगा और बीजेपी के प्रति आकर्षित होंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.