कोरोना काल के दौरान मृतक पत्रकारों के परिजनों को 10 लाख रुपये देगी यूपी सरकार

0 401

लखनऊ : हिंदी पत्रकारिता दिवस के अवसर पर कोरोना महामारी में कोरोना से मरने वाले पत्रकारो को यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मृतक परिवारों के प्रति सहानुभूति प्रगट करते हुए उन्हें आर्थिक मदद के लिए 10 लाख रुपए देने का ऐलान किया है। वही पत्रकारों के हितों में कार्य करनें के लिए तत्पर रहने वाले उत्तर प्रदेश सरकार में विधि एवं न्याय मंत्री बृजेश पाठक ने अपनी विधायक निधि से रविवार को लखनऊ के वीवीआईपी गेस्ट हाउस परिसर के बाहर सुलभ शौचालय के निर्माण कार्य का शुभारंभ किया। इस दौरान पत्रकारिता जगत से जुड़े हुए तमाम पत्रकारों ने मंत्री बृजेश पाठक की सराहना करते हुए आभार व्यक्त किया।

वही बृजेश पाठक लखनऊ विश्वविद्यालय के छात्र संघ के अध्यक्ष भी रहे उनके साथ के बहुत से छात्र पत्रकारिता से पढाई कर रहे थे बृजेश पाठक राजनीती में चले गए और उसके साथ के कई पत्रकार साथी आज भी अनेक संस्थानों में कार्य कर रहे है बृजेश पाठक का पत्रकारों से लगाओ हमेशा रहा है।पत्रकारों की मांग पर लखनऊ के वीवीआइपी गेस्ट हाउस के बाहर कवरेज के दौरान एकत्रित होते है यहां पर शौचालय की व्यवस्था ना होने के कारण काफी दिक्कत का सामना करना पड़ता था। जिस को ध्यान में रखते हुए मंत्री बृजेश पाठक ने पत्रकारों के हित में यह कदम उठाया

कानून मंत्री ब्रिजेश पाठक का ब्यान हिंदी पत्रकारिता दिवस के अवसर पर समस्त पत्रकार मित्रों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि कोरोना काल में जिस तरह से पत्रकारों ने अपनी जान की बाजी लगाकर जन-जन तक खबरें पहुंचाने का कार्य किया व सरकार की नीतियों को जनता तक पहुंचाने का काम किया उसके लिए मैं सभी पत्रकार मित्रों को शुभकामनाएं देता हूं उन्होंने कहा कि जो बुरे दिन थे उससे हम लोग अब धीरे-धीरे बाहर निकल कर के आ गए हैं कोरोना महामारी के दौरान दमाम पत्रकारों ने अपने प्राणों की आहुति दी

Leave A Reply

Your email address will not be published.