चीन की मिसाइल क्षमताओं पर अमेरिका चिंतित

0 169

चीन : के परमाणु हथियारों के निर्माण पर अमेरिका ने चिंता जताई है। विदेश विभाग के प्रवक्ता नेड प्राइस ने गुरुवार को कहा कि पीआरसी (चीन ) परमाणु शक्ति के मामले में पहले की अपेक्षा अधिक तेजी से बढ़ा है। इसका गलत इस्तेमाल शांति के लिए खतरा पैदा कर सकता है। चीन ने हाल ही में सौ से अधिक नए साइलों तैयार कर बड़ी चुनौती खड़ी कर दी है। बीजिंग द्वारा 100 से अधिक परमाणु मिसाइल साइलो बनाए जाने पर उन्होंने कहा कि पीआरसी (चीन) का परमाणु शक्ति पहले की अपेक्षा अधिक तेजी से बढ़ा है। चीन के परमाणु निर्माण हथियारों पर नियंत्रण करने के लिए प्राइस ने दुनिया के सभी देशों को आगे आने का आग्रह किया।

गौरतलब है कि चीनी नौसेना अत्याधुनिक हथियारों से लैस भी है। आज वह इतना ताकतवर है कि अमेरिका को भी चुनौती दे सकता है। इस बात का अमेरिका को भी भान है। अमेरिका लगातार चीन की गतिविधियों पर नजर बनाए हुए है। ड्रैगन इन दिनों तेजी से अपनी मिसाइल क्षमता को बढ़ाने में जुटा हुआ है। हाल की सैटेलाइट तस्वीरों से पता चलता है कि चीन उत्तर-पश्चिम शहर युमेन के पास एक रेगिस्तान में इंटरकॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइलों के लिए 100 से अधिक नए साइलों  को तैयार कर रहा है।  साइलो एक तरह का स्टोरेज कंटेनर होता है, जिसमें लंबी दूरी की मिसाइलों को रखा जाता है

Leave A Reply

Your email address will not be published.