शिक्षित बेरोजगारी झेल रहे युवा प्रकाश राज क्या बोले

0 126

बाराबंकी : प्रकाश राज कहते हैं कि मैंने केकेसी लखनऊ से बीकॉम किया उसके बाद एमकॉम किया कई बार सरकारी नौकरी पाने के लिए आवेदन भी किया लेकिन कहीं भर्ती प्रक्रिया में बाधा आ जाती है कहीं कोई और समस्या उत्पन्न हो जाती है आज तक बेरोजगार हूं बेरोजगारी को देखते हुए हमारे घर वालों ने मोबाइल शॉप की दुकान भी खुलवाई लेकिन दुकान में बिक्री और नफा ना होने के चलते दुकान मजबूरन बदलना पड़ा उसके बाद वेस्टीज कंपनी की डीएलसीपी खोलकर जीवन यापन कर रहा हूं प्रकाश राज कहते हैं कि आज भी सरकारी नौकरी पाने की इच्छा है लेकिन सरकार नौकरी ही नहीं निकाल रही है जिसके चलते बहुत दुख हो रहा है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.