जहां बिजली नहीं पहुंची, वहां पहुंच गए बिजली के बिल

0 20

सुल्तानपुर : शासन और प्रशासन गरीबों के लिए सड़क बिजली पानी जैसी महत्वपूर्ण योजना ग्रामीणों तक पहुंचाने की बात कह रही है लेकिन आज भी कुछ ग्रामीण इन महत्वपूर्ण योजनाओं से वंचित दिखाई दे रहे हैं। ऐसा ही मामला रायसेन जिले के सुल्तानपुर तहसील अंतर्गत आने वाले ग्राम सांतरा का है जिसमें ग्रामीणों के घर तक बिजली तो नहीं पहुंची लेकिन उनके पास बिजली के बिल जरूर पहुंच गए हैं।

देखा जाए तो आजादी के 73 साल बाद आज भी मध्यप्रदेश के ग्राम वासी बिजली से वंचित हैं, अगर ऐसी मूलभूत सुविधाओं के लिए ऐसे ग्रामीणों की सरकार को कोई फिक्र नहीं है। वहीं बता दें कि 18 सालों से भाजपा की सरकार है और 15 सालों से भोजपुर विधानसभा के विधायक सुरेन्द्र पटवा हैं इसके बाद भी इन ग्रामीणों के घर तक बिजली नहीं पहुंच सकी है।

वहीं ग्रामीणों का कहना है कि पिछले 25 से 30 वर्षों से हमें रहते हुए हो गए हैं लेकिन हमारे गांव में आज तक बिजली जैसी सुविधा नहीं मिली। दो साल पहले हमारे गांव के लिए बिजली विभाग द्वारा खंबे लगा दिए और अभी तक गांव में बिजली नहीं पहुंची। देखने की बात यह है कि जिस गांव में आज तक बिजली नहीं पहुंची वहां बिजली विभाग द्वारा आदिवासी भील लोगों के हाथों में बिजली विभाग के कर्मचारियों ने भारी भरकम बिल थमा दिए।

इसी बीच ग्रामीणों ने बिजली विभाग के कर्मचारियों पर आरोप लगाते हुए कहा कि कई बार कर्मचारी बिजली पहुंचाने के नाम से हमसे कई बार पैसे भी ले चुके हैं। वहीं सभी ग्रामीणों ने सुल्तानपुर नायब तहसीलदार सौरभ मालवीय को ज्ञापन देकर बिजली विभाग के खिलाफ अवगत कराया है। बिजली विभाग के कर्मचारियों का एक अनोखा कारनामा सामने आया है, जहां बिजली नहीं पहुंची और वहां लोगों को बिल थमा दिए हैं बिल भी कुछ कम के नहीं हैं भारी भरकम बिजली कर्मचारियों द्वारा बिल बांटे गए हैं।

वहीं कहा गया कि आपके यहां खंभे लगाए गए हैं बिल भरने तो आपके यहां बिजली पहुंच जाएगी। सोचने वाली बात यह है कि विभाग ने 25 वर्षों तक अभी तक बिजली नहीं दी है और बिल किस बात के दे रहे हैं जिन ग्रामीणों को 25 वर्ष रहते हो गए, उनके लिए बिजली की सुविधा तो मिली नहीं और बिल हजारों के थमा दिए हैं ऐसे में ग्रामीणों ने तहसील पहुंचकर तहसीलदार को इस बात से अवगत कराया है।

शिवराज सरकार बड़ी-बड़ी योजनाओं का बखान करते हुए नहीं थकती है और दिन प्रतिदिन ग्रामीणों के लिए हर एक नई योजना का प्रचार प्रसार शुरु कर देती है। शिवराज की सरकार के विधायक मंत्री रह चुके सुरेंंद्र पटवा के विधानसभा क्षेत्र में 25 वर्षों से रह रहे ग्रामीणों के घर तक आज भी रोशनी की दरकार है। दिन में तो सूरज की रोशनी में वह अपना काम कर लेते हैं लेकिन आज भी उन्हें अंधेरे में जीवन व्यतीत करना पड़ रहा है।

क्या आज भी सरकार की नजर इन पर नहीं पड़ी है या न जानकारी में होते हुए भी विधानसभा के नेता इन्हें बिजली मुहैया कराने में असमर्थ हैं। इस बारे में नायब तहसीलदार सुल्तानपुर सौरभ मालवीय का कहना है कि कलेक्टर महोदय को अवगत कराकर उचित जांच की जायेगी जिससे कि गांव में बिजली की व्यवस्था हो सके और इन सभी ग्रामीणों के बिजली बिल माफ किए जाएं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.