चिलचिलाती धूप में बच्‍चों को जंकफूड और चाकलेट देने से बचें

0 39

गर्मी दिन पर दिन बढ़ती जा रही है। दोपहर में घर से बाहर निकलना मुश्किल होता जा रहा है। धूप में घर से बाहर निकलते ही शरीर की ऊर्जा जल्दी खत्म हो रही है। इससे शरीर जल्दी थक रहा है। शरीर को ठंडा रखने के लिए पानी के साथ जूस, शर्बत, लस्सी और छाछ पीना जरूरी है। खानपान विशेषज्ञों का कहना है कि इस मौसम में खाली पेट बाहर निकलने से बचें। खासतौर से बच्चों को जंकफूड और चाकलेट न खाने दें। साथ रखें पानी की बोतल तेज धूप में बाहर निकलने पर बार-बार प्यास लगती है। इसलिए पानी की बोतल हमेशा साथ रखें।

इसके अलावा दिन में एक बार शिकंजी, बेल का शर्बत, जीरे का शर्बत, लस्सी और वेजिटेबल जूस भी जरूर पीएं। इससे डिहाइड्रेशन की समस्या नहीं होगी। इसके साथ ही इस मौसम में बाहर का खाना खाने से भी बचें। इससे पेट खराब हो सकता है, क्योंकि गर्मी में अधिक मसाले और तेल वाला भोजन करने से उल्टी जैसा महसूस होना एक आम बात है।बच्चों का भी बदलें खानपान गर्मी के मौसम में जहां तक संभव हो बच्चों को जंकफूड और चाकलेट खाने से रोकें। बच्चों के आहार में फल, सब्जियों के अलावा दलिया, ब्राउन ब्रेड, सोयाबीन और चने को शामिल करें।

यह बच्चों की बढ़ती उम्र के लिए भी जरूरी है। साथ ही इस बात का भी ध्यान रखें कि स्कूल जाते समय बच्चों के टिफिन में एक मौसमी फल और पानी की बोतल के अलावा एक अन्य बोतल में शिकंजी, लस्सी, छाछ और उनका कोई मनपसंद शर्बत तैयार करके जरूर दें। खानपान में करें बदलाव भोजन में खीरा, ककड़ी, प्याज और टमाटर को करें शामिल दोपहर और रात के भोजन में दही और छाछ जरूरी खाने में अधिक तेल और मसाले का प्रयोग करें कम रात में सोने से पहले एक गिलास ठंडा दूध पीएं दिन में 10 गिलास पानी के अलावा नारियल पानी, गन्ने का रस, बेल का शर्बत और अन्य जूस जरूरी पीएं

दिन में 500 ग्राम खरबूजा और तरबूज जरूर खाएं।एक कप कोल्ड ग्रीन टी भी जरूर पीएं। एक गिलास वेजिटेबल जूस या सफेद कद्दू का जूस पीना भी फायदेमंद है।इनका कहना हैदिनों दिन बढ़ती धूप में बच्चों और बड़ों सभी को सतर्क रहने की जरूरत है, क्योंकि तेज धूप और गर्मी के कारण कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इसलिए कभी भी खाली पेट न रहें। पानी की बोतल हमेशा अपने साथ रखें। डा. भावना गांधी, खानपान विशेषज्ञ

Leave A Reply

Your email address will not be published.