New Ad

सीएम योगी के खिलाफ तीखी बयानबाजी कर बुरे फंसे सांसद संजय सिंह, दर्ज हुई एफआईआर 

0
लखनऊ : आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह अक्सर ही विवादित बयान देते दिख जाते हैं। हालांकि इस बार उन्हें उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ बयानबाजी करना भारी पड़ गया है। सीएम योगी पर टिप्पणी करने को लेकर अब आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है। यह एफआईआर लखीमपुर खीरी के गोला गोकर्णनाथ कोतवाली में अरविंद गुप्ता नाम के शख्स की ओर से दर्ज कराई गई है।
सांसद संजय सिंह पर आरोप लगा है कि उन्होंने समाज को बांटने वाला बयान दिया है। दरअसल उन्होंने 12 अगस्त को अपने सहयोगी सभाजीत सिंह और बृजकुमारी के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी, जिसकी रिपोर्ट 13 अगस्त को समाचार पत्रों में छपी। इसमें संजय सिंह ने आरोप लगाए हैं कि यूपी सरकार में चुन-चुन को लोगों को मारा जा रहा है। ब्राह्मणों पर अत्याचार भी हो रहा है। उन्होंने कहा था कि किसी भी ब्राह्मण से पूछ लें, वह आपको मुख्यमंत्री के खिलाफ गुस्सा बताएगा।
समाज को बांटने वाला दिया बयान
संजय सिंह ने कहा कि भाजपा सरकार में 58 विधायक ब्राह्मण हैं और वो भी बहुत गुस्से में हैं। उप मुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा भी ब्राह्मण हैं लेकिन वह आवाज नहीं उठाते। जबकि डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य एक भी मौर्य का काम नहीं करवा पाए। राष्ट्रपति दलित हैं, उन्हें भी राम मंदिर शिलान्यास में नहीं बुलाया गया।
उन्होंने कहा है कि इस सरकार में केवल ठाकुरों का काम हो रहा है। राजभर, कुर्मी, यादव, सोनकर, निषाद, तेली और नाई आदि सभी समाज के लोग सरकार से काफी नाराज हैं। यही नहीं संजय सिंह ने तो इन खास वर्गों से आने वाले यूपी में डीएम और एसपी की संख्या भी पूछी।
संजय सिंह पर आरोप लगा है कि उन्होंने अपनी घटिया बयानबाजी के दौरान राष्ट्रपति, मुख्यमंत्री और विधायकों को भी नहीं बख्शा। शिकायतकर्ता ने कहा है कि संजय सिंह ने संवैधानिक मर्यादा का उल्लंघन किया है। वहीं अब इस मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.