अतिक्रमण के नाम पर दलितों को आत्महत्या करने पर मजबूर कर रही BJP- मायावती

0 259

कहा- गुना की घटना से देशव्यापी निन्दा स्वाभाविक, सरकार सख्त कार्रवाई करे

लखनऊ : मायावती की ओर से भारतीय जनता पार्टी पर मध्य प्रदेश के गुना में दलित किसान परिवार के साथ प्रशासन की बर्बरता जैसी हैरान करने वाली घटना पर मायावती ने निंदा की है और भारतीय जनता पार्टी के मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री आड़े हाथों लिया है। मायावती ने सिलसिलेवार ट्वीट में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से गुना मामले में दोषियों पर सख्त कार्रवाई की मांग की है।

मायावती ने गुरुवार को ट्वीट कर लिखा, ‘मध्य प्रदेश के गुना पुलिस व प्रशासन द्वारा अतिक्रमण के नाम पर दलित परिवार को कर्ज लेकर तैयार की गई फसल को जेसीबी मशीन से बबार्द करके उस दम्पत्ति को आत्महत्या का प्रयास करने को मजबूर कर देना अति-क्रूर व अति-शर्मनाक है. इस घटना की देशव्यापी निन्दा स्वाभाविक, सरकार सख्त कार्रवाई करे।

मायावती ने लिखा, कि एक तरफ बीजेपी व इनकी सरकार दलितों को बसाने का ढिंढोरा पीटती है। जबकि दूसरी तरफ उनको उजाड़ने की घटनाएं उसी तरह से आम हैं जिस प्रकार से पहले कांग्रेस पार्टी के शासन में हुआ करती थी। तो फिर दोनों सरकारों में क्या अन्तर है? खासकर दलितों को इस बारे में भी जरूर सोचना चाहिए।

दरअसल, गुना में प्रशासन की ओर से अतिक्रमण हटाने के लिए अभियान चलाया जा रहा था, इस दौरान एक किसान दंपति की बुरी तरह से पिटाई कर दी गई। विरोध में दंपति ने कीटनाशक दवाई पी ली और खुदकुशी की कोशिश की. इसी घटना के बाद काफी बवाल हुआ। इतने बवाल के बाद मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुना के कलेक्टर और एसपी को तुरंत हटा दिया है। इसके अलावा मामले की उच्च स्तरीय जांच के निर्देश दिए गए हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.