बीएसपी सुप्रीमो मायावती का बड़ा ऐलान, बीएसपी अकेले ही विधानसभा चुनाव लड़ेगी

0 56

लखनऊ : 2022 में होने वाले विधानसभा सभा चुनावों से पहले यूपी की पूर्व सीएम व बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने बड़ा ऐलान किया है। मायावती ने कहा उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) किसी भी दूसरी पार्टी के साथ किसी भी प्रकार का कोई चुनावी समझौता नहीं करेगी।

बीएसपी अकेले अपने दम पर विधानसभा का चुनाव लड़ेगी।

लखनऊ स्थित बहुजन समाज पार्टी कार्यालय पर पूर्व सीएम मायावती ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान मायावती ने कहा कि यूपी चुनाव के नजीद आते ही बीजेपी व अन्य सभी विरोधी पार्टियों का प्रदेश की जनता को हर प्रकार से लुभाने व बरगलाने का नाटक शुरू हो गया है। मायावती ने कहा कि केंद्र और यूपी की भाजपा सरकार ने चुनाव आते ही ताबड़तोड़ सरकारी योजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण कर रही है। ये योजनाएं अभी आधी-अधूरी ही हैं। जनता इनके झांसे में नहीं आएगी मायावती ने कहा कि बीएसपी को छोड़कर यहां सभी विपक्षी पार्टियों ने अभी तक जो घोषणाएं और वादे जनता से किए है। यह भी इनके लिए अनेके सवाल खड़े करता है। जैसे समाजवादी पार्टी की तरह कांग्रेस पार्टी ने प्रदेश की जनता को जो किस्म-किस्म के चुनावी वादे किए है उनपर यहां की जनता जल्दी से विश्वास करने वाली नहीं है। मायावती ने कहा कि अगर कांग्रेस पार्टी ने सत्ता में रहते हुए 50 फीसदी भी अपने वादे पूरे किए होते तो आज केंद्र की सत्ता से बाहर न होते। मायावती ने कहा कि जनता सपा के चुनावी वादों पर यकीन नहीं करेगी और उन्हें वोट नहीं देगी

बीजेपी पर निशाना साधते हुए मायावती ने कहा कि पिछले दिनों जिस प्रकार से हर दिन रिकॉर्ड तोड़ पेट्रोल और डीज़ल की कीमतें बढ़ी हैं और जिस प्रकार से देश में मंहगाई भी बढ़ी है, यह सब जनता आसानी से भुलाने वाली नहीं है। अब ज़ल्दी ही कई राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव में अपनी हार के डर से इनकी कीमतों में जो इन्होंने (भाजपा) थोड़ी कमी की है तो इसकी भी भरपाई यह पार्टी (भाजपा) चुनाव के बाद जनता से ब्याज़ सहित वसूल कर लेगी। इसे भी जनता को ज़रूर ध्यान में रखकर चलना चाहिए मायावती ने कहा कि हम सपा और भाजपा में कोई फर्क नहीं समझते है। ये दोनों पार्टी एक ही सिक्के के दो पहलू है। ये दोनों पार्टी चुनाव को हिंदू-मुस्लिम करना चाहती है। जैसे 2007 में हमें पूर्ण बहुमत मिला था, वैसे ही बहुमत हमें इस बार भी मिलने वाला है। मायावती ने कहा कि जनता इन दोनों पार्टियों से सजग है। उन्होंने कहा कि भाजपा और सपा की 403 सीटों में से 400 सीट जीतने का दावा किया जा रहा है वो बचकना है। कहा कि आने वाले समय में मतदाता बताएंगे किसमें कितना है दम।

Leave A Reply

Your email address will not be published.