अमेठी के सभी 30 पीएचसी पर आयोजित हुआ मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला

0 102

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र जायस में आयोजित स्वास्थ्य मेले का जिलाधिकारी ने किया शुभारंभ

अमेठी : शासन के निर्देश पर जनसामान्य को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने के उद्देश्य से रविवार को जिले के सभी 30 पीएचसी पर मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेले का आयोजन किया गया। जायस प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर सुबह दस बजे जिलाधिकारी अरुण कुमार ने मेले का शुभारंभ करते हुए इलाज के लिए लगाए गए स्टालों का निरीक्षण किया। शासन ने स्वास्थ्य सुविधाओं को और बेहतर बनाते हुए आमजनों को स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने, रोगों की रोकथाम के लिए रोग को प्रारंभिक स्तर पर चिह्नित कर बेहतर इलाज का प्रबंध सुनिश्चित कराने का निर्णय लिया है। प्रदेश सरकार ने इसके तहत समस्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला आयोजित करने की योजना बनाई है।

आयोजित स्वास्थ्य मेले में डीएम ने मेले में आए लोगों का इलाज करने के साथ ही उन्हें संचारी रोग की रोकथाम का उपाय बताने व गोल्डेन कार्ड बनाने तथा वितरण की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। इसके साथ ही जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य मेले में आए लोगों को कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करते हुए मास्क लगाने तथा सेनीटाइजर का प्रयोग करने के निर्देश दिए। स्वास्थ्य मेले में चिकित्सकों ने गंभीर बीमारी से पीड़ित मरीजों को चिह्नित किया। उनकी स्क्रीनिंग व यथोचित स्तर पर संदर्भन व फॉलोअप की व्यवस्था की गई। अन्य मरीजों को चिकित्सीय परामर्श, टीकाकरण, जांच व दवा देने के साथ गर्भावस्था व प्रसव कालीन सावधानी तथा तंबाकू सेवन रोकने के प्रति जागरूक किया गया।

सीएमओ डॉ. आशुतोष दूबे ने जिले के समस्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला आयोजित कराया। सीएमओ ने बताया कि मेले में उच्च रक्तचाप, मधुमेह, कुष्ठ रोग, दिमागी बुखार व कैंसर के मरीजों की स्क्रीनिंग व यथोचित स्तर पर संदर्भ और फॉलोअप की व्यवस्था रही। मेले में लोगों को प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना की जानकारी देने के अलावा गोल्डन कार्ड बनाकर वितरित किया गया। इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी डॉ अंकुर लाठर, अपर जिलाधिकारी न्यायिक सुधीर रुंगटा, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आशुतोष दुबे, डॉ. सीएस अग्रवाल सहित अन्य संबंधित मौजूद रहे

Leave A Reply

Your email address will not be published.