ठाकुरगंज चौकी प्रभारी समेत 152 मरीजों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि

0 165

लविवि कुलपति कार्यालय में तैनात कर्मचारी व जिला जेल के दो कैदी भी शामिल

लखनऊ : राजधानी में कोरोना का कहर तेज हो गया है। इसकी चपेट में ठाकुरगंज के एक चौकी प्रभारी व लखनऊ विश्वविद्यालय कुलपति कार्यालय में तैनात कर्मचारी भी आ गए हैं। वहीं यह संक्रमण अब जेलों तक भी पहुंच गया है। लखनऊ जिला जेल में बंद दो कैदी भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। कोरोना संक्रमित एक पुरूष व महिला दोनों कैदियों को पीजीआई के कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इसके साथ ही पूरे जेल और बैरकों को सेनेटाइज कराया गया है।

वहीं प्रतिदिन मिलने वाले मरीजों की सूची में भी काफी परिवर्तन देखने को मिल रहा है। एक तरफ सीएमओ ने लखनऊ में 149 मरीजों में कोरोना संक्रमण पाए जाने का दावा किया तो वहीं दूसरी तरफ डीएम ने 147 व यूपी स्वास्थ्य विभाग ने 152 मरीजों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि की। थाना ठाकुरगंज के भुंवर चौकी पर तैनात चौकी प्रभारी विनय मिश्र कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गए हैं। चौकी प्रभारी में संक्रमण की पुष्टि होते ही पुलिस महकमें में हड़कम्प मच गया। आनन फानन में चौकी को सेनेटाइज कराया गया। स्वास्थ्य विभाग इनके संपर्क में आने वाले लोगों की सूची बना रहा है।

इसके अलावा लखनऊ विश्वविद्यालय कुलपति कार्यालय में तैनात कर्मचारी में भी कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। सूचना पर पहुंची स्वास्थ्य टीम ने कर्मचारी के संपर्क में आने वाले लोगों की सूची तैयार की है। अब इनकी जांच कराई जाएगी। वहीं कर्मचारी के निवास स्थान को सेनेटाइज कराते हुए सील कर दिया गया है। इन सभी को पीजीआई के कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

जिला जेल में भी पहुंचा कोरोना वायरस

लखनऊ जिला जेल में भी कोरोना वायरस पहुंच चुका है। जेल के दो बंदियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि की गई है। इसमें शामिल दहेज हत्या में बंद एक महिला कैदी किडनी की बीमारी से भी ग्रसित है जिसका पीजीआई में इलाज चल रहा है। इसमें मनी लॉङ्क्षड्रंग केस में बंद दूसरा पुरूष कैदी शामिल है। जेल विभाग के मुताबिक दोनों को पीजीआई के कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पूरे जेल और बैरकों को सेनेटाइज कराते हुए अन्य बंदियों के कोविड टेस्ट कराने के लिए सीएमओ को पत्र लिखा गया है।

सीएमओ प्रवक्ता योगेश रघुवंशी के मुताबिक गोमतीनगर के विभिन्न इलाकों से 12 मरीज कोरोना की जद में आए हैं। वहीं 102 एंबुलेंस हेल्पलाइन के 11 कर्मचारी भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इन्दिरानगर के भी 11 मरीज कोरोना संक्रमित मिले हैं। वहीं अलीगंज के 10 व गनेशपुर में 8 जबकि रायबरेली रोड स्थित अपार्टमेंट में 5, जानकीपुरम तथा आलमबाग के इलाके में 6-6 मरीज संक्रमित पाए गए हैं।

वहीं चौक में पांच व ठाकुरगंज तथा एलडीए में 4-4 संक्रमित मरीज मिले हैं। इसके अलावा हजरतगंज, महानगर, निशातगंज व वाला कदर रोड में तीन तीन लोगोंं में कोरोना संक्रमण की पुष्टि की गई है। वहीं रकाबगंज, वृन्दावन, बालागंज, ओमेक्स सिटी, हसनगंज, कृष्णानगर, सरोजनीनगर व मोहनलालगंज में दो-दो एवं अमेठी, राजाजीपुरम, डालीगंज, ताल कटोरा, ऐशबाग, यासीनगंज, विकासनगर, अमौसी, मशंकगंज, राजेन्द्रनगर, शारदानगर, गोलागंज, निरालानगर, खदरा, सरोजनी नायडू मार्ग, तेलीबाग, पुराना हैदराबाद व नरही के एक-एक मरीज कोरोना की चपेट में आए हैं। सीएमओ प्रवक्ता ने बताया कि सर्विलान्स एवं कान्टेक्ट ट्रेसिंग के आधार पर 828 लोगों के सैम्पल टीम द्वारा लेकर केजीएमयू भेजे गये।

Leave A Reply

Your email address will not be published.