जिलाधिकारी ने किया प्राथमिक विद्यालय असरेन्दा, विकास खण्ड मियांगज का निरीक्षण

0 9

उन्नाव (सिटीजन वॉयस संवाददाता) : जिलाधिकारी रवींद्र कुमार द्वारा प्राथमिक विद्यालय असरेन्दा, विकास खण्ड मियांगज का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान उपस्थित पंजिका देखी गयी रमला वर्मा, प्रधान शिक्षक उपस्थित मिली। रामलाल शर्मा बाद में उपस्थित हुए। जानकारी करने पर कोविंड-19 वैक्सीनेशन हेतु जाना बताया गया।कक्षा-1, 2,4 व 5 की उपस्थित पंजिका का अवलोकन किया गया। जिसमें दिनांक 14.11.2021 की तिथि में समस्त छात्रों की आज की उपस्थिति दर्ज की गयी है। जो नितान्त आपत्तिजनक है। निरीक्षण के समय मात्र 18 छात्र ही पाए गये छात्रों की कम उपस्थित के सम्बंध में जानकारी करने पर कटनी के कारण छात्रों का स्कूल न आना बताया गया। कक्षा-1 से 5 तक के छात्र दो कक्षों में सम्मिलित रूप से बैठे पाये गये जिनसे आज होने वाली पढ़ाई के सम्बंध में जानकारी करने पर किताब से पढ़ाई होना बताया गया निरीक्षण के दौरान ब्लैक बोर्ड खाली पाया गया।निरीक्षण के दौरान एक बच्चा अंश शुक्ला निवासी बरहली उपस्थित मिला।

जिससे जानकारी करने पर उसके द्वारा कोचिंग पढ़ने की बात बताई गयी। उपस्थित प्रधान शिक्षिका से उक्त बच्चे के पंजीकरण के सम्बंध में जानकारी करने पर पंजीकरण न होना बताया गया। कोचिंग हेतु पैसे देने के सम्बंध में जानकारी करने पर पैसे न देने के बात संज्ञान में लाई गयी। निरीक्षण के दौरान एम०डी०एम० रजिस्टर देखा गया। मध्यान्ह भोजन के सम्बंध में जानकारी करने पर मध्यान्ह भोजन बनना बताया गया। मेन्यू के सम्बंध में जानकारी करने पर सब्जी व रोटी बनना बताया गया।किताबों के वितरण के सम्बंध में जानकारी करने पर किताबे वितरित होना बताया गया।निरीक्षण के दौरान स्कूल में पठन-पाठन से सम्बंधित कोई माहौल देखने को नहीं मिला। छात्रों को उनके विषय के सम्बंध में किसी प्रकार की कोई जानकारी नहीं थी।

जूता, मोजा, स्कूल बैग व ड्रेस आदि की धनराशि छात्रों के खातों में अन्तरित होने के सम्बंध में जानकारी करने पर उपस्थित प्रधान शिक्षिका कोई संतोषजनक उत्तर नहीं दे सकी।जिस पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा सम्बंधित शिक्षकों द्वारा अपने पदीय दायित्यों एवं कर्तव्यों का सजग होकर निर्वहन नहीं किया जा रहा है तथा कार्यों के प्रति लापरवाही एवं उदासीनता बरती जा रही है। जिलाधिकारी ने जिला बेसिक शिक्षाधिकारी, उन्नाव को निर्देशित किया है कि निरीक्षण के दौरान पाये गये उपरोक्त तथ्यों के दृष्टिगत रमला वर्मा, प्रधान शिक्षका व रामलाल शर्मा सहायक शिक्षक के विरूद्ध विभागीय कार्यवाई प्रारम्भ करें तथा कृत कार्यवाई से अवगत करायें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.