लखनऊ में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ 50 हजार का इनामी गिरफ्तार

0

आरोपी के खिलाफ अम्बेडकरनगर में बैंक लूटने और हुसैनगंज में हत्या का मुकदमा दर्ज

लखनऊ : लॉकडाउन में जहां चप्पे चप्पे पर पुलिस लोगों पर नजर टिकाये हुए है। वहीं उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में 50 हजार का इनामी बदमाश शीबू उर्फ़ पिंटू गुरुवार सुबह चारबाग में पुलिस से हुई मुठभेड़ में घायल हो गया। उसके पैर में गोली लगी है। शीबू याहियागंज चौक में पान मसाला एजेन्सी में हत्या कर लूट में शामिल था। इसके अलावा वह एचडीएफसी बैंक लूटकांड में भी था। फिलहाल शीबू को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

एसीपी हजरतगंज अभय कुमार मिश्रा ने बताया कि शीबू पर अम्बेडकर नगर के टांडा से 50 हजार रुपए का इनाम था। उसके चारबाग में होने की सूचना पर एसीपी और हुसैनगंज इंस्पेक्टर अंजनी पांडेय टीम के साथ पहुंचे थे, जहां बदमाश से मुठभेड़ हो गई। शीबू उर्फ़ काना पहले जे सी बोस मार्ग, चाइना बाजार चौकी के पास, केसरबाग में रहता था। इस समय उसका परिवार बडा पार्क के पास, पुराना किला, हुसैनगंज में रह रहा था।

शीबू के खिलाफ अंबेडकर नगर का बैंक लूटने और हुसैनगंज में हत्या का मुकदमा दर्ज है। मुठभेड़ की सूचना मिलते ही डीसीपी दिनेश सिंह और एडीसीपी चिरंजीव नाथ सिन्हा मौके पर पहुंच गए। पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने टीम को पुरस्कृत करने की घोषणा की है।

पुरानी सरिया मिल ऐशबाग तिलकनगर निवासी राम निवास अग्रवाल की नेहरू क्रास चौराहे पर फर्म है। फर्म से पान मसाला समेत अन्य का थोक कारोबार किया जाता है। 20 फरवरी को दोपहर में दुकान पर राम निवासी, उनके भाई लालता प्रसाद, श्रीराम, खेमचंद्र व उनका बेटा रितेश बैठकर हिसाब करने जा रहे थे। इसी बीच हेलमेट और नकाब पहने चार बदमाशों ने लूटपाट के बाद दुकान में मौजूद नौकर कन्हई खेड़ा कैंपवेल रोड निवासी सुभाष को गोली मार दी थी। सुभाष दुकान में रखा स्टील का डस्टबिन लेकर बदमाशों को मारने दौड़ा था। गोली लगने से सुभाष लहूलुहान होकर वहीं गिर पड़ा और हमलावर भाग निकले। सुभाष को स्थानीय लोग ट्रॉमा सेंटर लेकर पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था

Leave A Reply

Your email address will not be published.