उधार के रुपये वापस मांगने पर हुई थी किसान राजेश की हत्या,हत्यारोपी गिरफ्तार

0 19

बाराबंकी : अवैध सम्बन्ध व उधार के रुपये मांगना किसान राजेश को महंगा पड़ गया।और रुपये उधार लेने वाले युवक व उसके भाई ने उसे शराब के जहरीला पदार्थ मिलाकर पिला दिया और उसकी मौत हो गई।मौत के बाद मृतक राजेश यादव के शव को कालेज के पीछे फेंककर हत्यारोपी फरार हो गए।शव मिलने की सूचना पाकर एसपी अनुराग वत्स के साथ स्थानीय थाना पुलिस मौके पर पंहुची और मृतक के शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम करवाया वहीं पोस्टमार्टम रिपोर्ट में विषाक्त पदार्थ के सेवन की वजह से मौत होने की पुष्टि हुई।

जिसके बाद थानाध्यक्ष असन्द्रा ध्यानेन्द्र प्रताप सिंह के नेतृत्व में गठित पुलिस टीम को सफलता प्राप्त हुई जिसके बाद पुलिस ने कड़ी से कड़ी मिलाकर पाया कि हत्यारोपी शीतला प्रसाद की पत्नी से कुछ वर्ष पूर्व मृतक के अवैध सम्बंध हो गए थे और उसी दौरान मृतक के हत्यारोपी शीतला को 60 हजार रुपये उधार दे दिए थे बुधवार की सुबह मृतक राजेश शीतला के घर पर उधार के रुपयों को मांगने के लिये गया था और उस समय शीतला ने अपने भाई राजेंद्र के साथ मिलकर मृतक को शराब में जहर मिलाकर पिला दी जिसके बाद राजेश की मौत हो गई।

मौत के बाद दोनो ने राजेश के शव को डिग्री कालेज के पीछे फेंककर हत्यारोपी फरार हो गए।वहीं गुरुवार की सुबह राजेश का शव पड़े होने की सूचना मृतक के भाई ने पुलिस को दी जिसके बाद असन्द्रा पुलिस व एसपी अनुराग वत्स घटनास्थल पर पंहुचे थे और मृतक शव का पंचनामा भरवाकर पोस्टमार्टम के लिये भेजवाया था जिसके बाद आई रिपोर्ट में जहरीले पदार्थ के सेवन के बाद मौत होने की पुष्टि हुई थी।वहीं मृतक के भाई की तहरीर पुलिस ने मुकदमा दर्ज करके वैज्ञानिक साक्ष्य संकलित करके हत्यारोपी शीतला प्रसाद को धर-दबोचा और पूंछतांछ में हत्यारोपी शीतला ने बताया कि मृतक 2 फरवरी को सुबह घर पर पैसे मांगने आया था

और उसी समय भाई के साथ मिलकर योजना बना डाली और 2 फरवरी की शाम में मृतक राजेश को जमकर शराब पिलाई उसमे जहर मिला दिया और मृतक की मौत हो गई मौत होने के बाद हम दोनों ने मिलकर उसके शव को डिग्री कालेज के पीछे फेंककर फरार हो गए वहीं हत्यारोपी के पकड़ में आने के बाद उसकी निशांदेही पर मृतक की घड़ी भी पुलिस ने बरामद करने का दावा किया है।वहीं हत्यारोपी को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में एसओ ध्यानेन्द्र प्रताप सिंह, एसआई धर्मेंद्र मिश्रा मयहमराही फोर्स मौजूद रहा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.