नवसंवत्सर पर सिद्धपीठ चण्डी मंदिर में हुआ ध्वजारोहण

0 19

ललितपुर : भारतीय संस्कृति के अनुसार नये वर्ष का आगमन आज से हुआ है। नूतन संवत्सर के शुभारंभ पर शनिवार को सिद्धपीठ चण्डी माता मंदिर धाम परिसर में परम पूज्य महामण्डलेश्वर, चण्डी पीठाधीश्वराचार्य स्वामीचन्द्रेश्वरगिरी महाराज के सान्निध्य में धर्मपताका का रोहण किया गया।

इस दौरान महामण्डलेश्वर स्वामी चन्द्रेश्वरगिरी महाराज ने नव संवत्सर 2079 का वर्णन करते हुये बताया कि इस वर्ष के राजा शनिदेव व मंत्री गुरू हैं। उन्होंने कहा कि इस वर्ष प्रत्येक मनुष्य को गुरूओं का आशीर्वादलेकर उनके बताये धर्म मार्ग का अनुशरण करना चाहिए।

ताकि पूरे वर्ष सुख,शान्ति, प्रसन्नता से व्यतीत हो। उन्होंने कहा कि महिलाओं का सम्मान बढ़ेगा। आगे यह भी बताया कि नकारात्मक सोच को रखने वालों को जनहानि, तन हानि और धनहानि भी हो सकती है। इसलिए मां भगवती की आराधना करते हुये अपना जीवन व्यतीत करें।

तदोपरान्त सिद्धपीठ चण्डी मंदिर धाम पर शत चण्डी का शुभारंभ परम पूज्य महामण्डलेश्वर चण्डी पीठाधीश्वराचार्य स्वामी चन्द्रेश्वरगिरी महाराज के परम सान्निध्य में हुआ। इस पूजन में मुख्य यजमान भगवान सिंह परमार सपत्नीक, लखनलाल रावत सपत्नीक, सत्येन्द्र प्रताप सिंह सिसौदिया सपत्नीक, राहुल शुक्ला पत्रकार आदि नौ दिवसीय पूजन करेंगे।

सिद्धपीठ पर दुर्गासप्तमी के पाठ भी आज से प्रारंभ हुये। अन्य यजमानों के पाठ का संकल्प हुआ। मंदिर पर सुबह से ही मां की आराधना करने वाले भक्तों का तांता लगा रहा। तो वहीं प्रतिदिन रात्रि में माँ चण्डी का विभिन्न पूजन सामग्री से परम पूज्य महामण्डलेश्वर द्वारा अर्चन किया जाता है

जो कि विशेष मंत्रों से संपन्न कराया जाता है। इस दौरान भगवान सिंह परमार, लखनलाल रावत, श्याम सुन्दर सिंह यादव, राजीव बबेले सप्पू, कल्पनीत सिंह लोधी, लखन यादव, सत्येन्द्र प्रताप सिंह सिसौदिया, अनूप मोदी, अश्वनी पुरोहित गोलू, कल्पेश शाह, संदीप शर्मा एड., शत्रुघन यादव, अमित लखेरा, वेद लिटौरिया, दीपू यादव, बुलेट राजा, मनीष झां, आदित्य द्विवेदी, आयुष
पाठक, कल्यान दाऊ, अवधेश शर्मा छोटू आदि मौजूद रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.