प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय राजयोग केंद्र में परमपिता शिव का धरा अवतरण दिवस हर्षोलास से मनाया गया

0 187

 

बांगरमऊ,उन्नाव : महाशिवरात्रि पर्व पर नगर के ब्लाक रोड स्थित प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय राजयोग केंद्र में परमपिता परमात्मा शिव का धरा अवतरण दिवस समारोह पूर्वक मनाया गया। समारोह में केंद्र संचालिका ब्र.कु. सरला बहन ने कहा कि मोह माया रूपी अंधकार को मिटाने और संसार में ज्ञान रूपी प्रकाश फैलाने के लिए परमात्मा  इसी दिन प्रजापिता ब्रह्मा के तन में अवतरित हुए थे, समारोह में ब्रह्माकुमारी बहन सरला ने कहा कि आज धरती पर राग- द्वेष, माया व अहंकार रूपी रावण का गहरा प्रभाव है।

जहां एक ओर विश्व के लगभग सभी राजनेता शांति स्थापित करने का संकल्प ले रहे हैं। वहीं दूसरी ओर अधिकांश देश मानवता के विरुद्ध आचरण कर शक्तिशाली परमाणु बम बनाने में जुटे हुए हैं। उन्होंने दावा किया कि आसुरी प्रवृत्तियों के चलते संपूर्ण धरती बारूद के ढेर पर है और किसी भी समय पृथ्वी से सृष्टि समाप्त हो सकती है। उन्होंने सुझाव दिया कि ऐसे नाजुक समय में मानव को आसुरी प्रवृत्तियों का त्याग करना होगा और संगम युग से सतयुग में प्रवेश हेतु योग के जरिए परमपिता परमात्मा की शरण में जाना होगा। अंत में ब्रह्माकुमारी ने योग केंद्र परिसर में विश्वविद्यालय संस्था का ध्वज फहराया और झंडा गीत प्रस्तुत किया। समारोह में मोहिनी गुप्ता, मुन्नीलाल मास्टर, रमाशंकर, बबलू, राम अवतार पाल, निर्मल बाबू, अनिला कुशवाहा, सावित्री यादव व अर्चना मिश्रा सहित सैकड़ों जिज्ञासु शामिल हुए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.