आठ जिलों में आक्सीजन प्लॉन्ट लगवा रहे हैं एमएलसी अवनीश कोविड 19 से लड़ने में लगायी विधायक निधि

0 62

एमएलसी ने जिलों के कलेक्टरों को लिखा पत्र, सरकारी प्रक्रिया जल्दी निपटाने का आग्रह

लखनऊ : इस कोविड काल मे ऑक्सीजन की किल्लत को ध्यान में रखते हुए एमएलसी इंजीनियर अवनीश कुमार सिंह ने एक अच्छी पहल की है।जिस लखनऊ खंड से इंजीनियर अवनीश कुमार सिंह विधायक हैं वहां मौजूदा कोविड काल में आक्सीजन की किल्लत जल्द दूर होने जा रही है । दरअसल इस खंड के अंतर्गत आने वाले जिलों- लखनऊ, बाराबंकी, सीतापुर, हरदोई, लखीमपुर-खीरी,रायबरेली प्रतापगढ़ और बाराबंकी- के कलेक्टरों को आदेश मिला है कि वो जितनी जल्दी हो सके जिला अस्पतालों में, या चाहें तो किसी दूसरे कोविड केन्द्र पर, आक्सीजन प्लान्ट लगवाने की प्रक्रिया जल्द से जल्द खत्म करें । इसके लिए जो भी व्यय आयेगा उसे विधायक निधि से खर्च करने का आग्रह है ।

दरअसल, भारी उम्मीदों के साथ विधान परिषद पहुंचे इंजी अवनीश कुमार सिंह के लिए मौजूदा कोविड का दौर परीक्षा की घड़ी सरीखा है। मुश्किल की इस घड़ी में हर रोज हजारों लोग अपने विधायक से उम्मीद लगाये बैठे हैं इंजी अवनीश ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी की सरकार और मैं भी पूरी कोशिश कर रहा हूं कि लोगों को राहत पहुंचा सकूं। लेकिन महामारी इतनी तेजी से फैली है कि कई बार मैं खुद भी समझ नहीं पाता कि क्या करूं? फिलहाल,ऐसा लगा कि आक्सीजन की सप्लाई निर्बाध चले यह जरूरी है । इसीलिए मैंने सोचा कि हर जिले में अपना एक प्लान्ट लगवाना जरूरी है और वो भी तेजी से

एमएलसी ने जिलों के मुखियाओं को लिखे अपने पत्र में साफ लिखा है कि प्लान्ट की प्रक्रिया तेजी से आगे बढ़े. दरअसल, कोविड की इस दूसरी लहर में लखनऊ और आस पास के जिले कहीं ज्यादा प्रभावित हुए हैं । ऐसे आ गये हैं कि उम्मीदों को संभालने में कई बार मशीनरी अक्षम महसूस कर रही है. बेशक इसी लिए एमएलसी अवनीश सिंह ने कलेक्टरों से आग्रह किया है कि वे जिले के बड़े बारात घरों होटलों गेस्ट हाउसों, निजी अस्पतालों को कलेक्टर की विशेष शक्तियों का उपयोग कर एल 1एळ 2 अस्पतालों में तब्दील करें, ताकि जरूरतमंदों का इलाज हो सके।अवनीश ने जिलों में आक्सीमीटर और दवाओं की कमी न हो इसके लिए भी जिलाअधिकारियों से सजग रहने को कहा है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.