एमएसजी फाउंडेशन द्वारा विश्व विकलांग दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन

0 9

 

लखनऊ। एमएसजी फाउंडेशन द्वारा सआदत गंज स्थित वज़ीरबाग़ में &https://www.youtube.com/channel/UCcj8JxdUrXPVdAxW-blFheA8220;विश्व विकलांग दिवस&https://www.youtube.com/channel/UCcj8JxdUrXPVdAxW-blFheA8221; कार्यक्र्म का आयोजन किया। इस कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि ख़ुशी पाण्डेय उपस्थित रहीं। मोहम्मद वसीम, अध्यक्ष तरन्नुम वसीम उपाध्यक्ष नेशनल हैंडीकैप हेल्प फाउंडेशन सहयोगी एवं अंजली ताज नवरीता फाउंडेशन , रुबीना आजाद उपस्थित रही।
ख़ुशी पाण्डेय ने इस कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज हमें ज़रूरत है एक दूसरे से क़दम से क़दम मिलाकर चलने की तभी हम एक बेहतर राष्ट बना सकते हैं।
&https://www.youtube.com/channel/UCcj8JxdUrXPVdAxW-blFheA8220;विश्व विकलांग दिवस&https://www.youtube.com/channel/UCcj8JxdUrXPVdAxW-blFheA8221; कार्यक्रम में एमएसजी फाउंडेशन ने लोगों के साथ अपने अनुभव साझा किये और बच्चों को उनके उज्जवल भविष्य के लिए कामना की। कार्यक्रम में मौजूद अतिथियों ने बच्चों से कहा आप देश का भविष्य हैं इस कारवां को आगे आपको ही बढ़ाना है।
एमएसजी फाउंडेशन द्वारा इस तरह के किये जा रहे कार्यक्रम को सभी ने सराहा और मोहम्मद सादिक़ से कहा जो कार्य आप कर रहे हैं ये बिना रुके करते रहिएगा क्योंकि समाज को ऐसी संस्था और ऐसे लोगों की ज़रूरत है।
एमएसजी फाउंडेशन की तरफ से बच्चों को किताबें कॉपी , पेंसिल रबर एवं दालमोट बिस्किट और फल भी वितरित किये गए।
यह कार्यक्रम सआदतगंज, स्थित वजीरबाग नियर भारत मैरिज हॉल लखनऊ के पास आयोजित किया गया।
कार्यक्रम के अंत में मोहम्मद सादिक़ ने कहा दिव्यांगजनों को समाज में आगे बढ़ाने के लिए उचित मौका देना चाहिए इसके लिए हम सबकी ज़िम्मेदारी है कि इस मुहिम को आगे बढ़ाएं।
इस कार्यक्रम में समाज के तमाम प्रतिष्ठित लोग मौजूद रहे। इस आयोजन में सराहनीय कार्यों के लिए एमएसजी फाउंडेशन के द्वारा लोगों को सम्मानित भी किया गया।
एमएसजी फाउंडेशन की तरफ से आलम रिज़वी, इमरान अली, साहिल मिर्ज़ा, अतहर अब्बास, शिप्रा शुक्ला, विनिता यादव, संध्या यादव, निकिता महिमा कश्यप, सय्यद तक़ी हसन, मोहम्मद समद, सय्यद फैज़ अब्बास आदि मौजूद रहे। कार्यक्रम के अंत में सफल आयोजन के लिए मोहम्मद सादिक ने सभी शुक्रिया अदा किया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.