हार की हैट्रिक के बाद रविंद्र जडेजा को कप्तानी में खुद को साबित करना होगा : रवि शास्त्री

0 27

मुंबई : आईपीएल में चार बार खिताब जीत चुकी चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के लिए लीग का 15वां सीजन अब तक सही नहीं रहा है। टीम को अभी भी पहली जीत की तलाश है। मौजूदा चैंपियन चेन्नई को अपना चौथा मुकाबला आज यानि के शनिवार को नवी मुंबई में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ खेलना है। इस मैच में टीम के नए कप्तान रविंद्र जडेजा पर खुद को साबित करने की चुनौती होगी।

लगातार तीन हार के बाद आलोचकों के निशाने पर आए जडेजा को लेकर टीम इंडिया के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री ने अपनी राय दी है। शास्त्री ने कहा है कि जडेजा को कप्तान के रूप में खुद को साबित करने की जरूरत है। शास्त्री ने कहा कि कप्तान को अपने खिलाडिय़ों पर भी सकारात्मक प्रभाव डालना चाहिए। शास्त्री ने कहा, इससे बहुत फर्क पड़ता है, आप आईपीएल में बेस्ट कप्तान की जगह ले रहे हैं और आपसे उस तरह की उम्मीद की जानी जायज है। धोनी की जगह लेना आसान नहीं है।

मैं चाहता हूं कि जडेजा बतौर कप्तान खुद को साबित करें। मुझे लगता है कि वह इससे थोड़े पीछे हट रहे हैं। मैं चाहता हूं कि वह ज्यादा से ज्यादा खेल पर ध्यान दें और अपने खिलाडिय़ों से बात करें। इस तरह की चीजों को जल्द करने की जरूरत होती है क्योंकि इस तरह की बॉडी लैंग्वेज का अन्य खिलाडिय़ों पर भी प्रभाव पड़ेगा। डिफेंडिंग चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स ने आईपीएल 2022 में अपने खिताब बचाओ अभियान की अच्छी शुरुआत नहीं की है। टीम अपने पहले तीनों मैच हार चुकी है।

सीएसके अभी अंक तालिका में नौवें स्थान पर हैं, जो सनराइजर्स हैदराबाद से एक पायदान ऊपर है। टीम को तेज गेंदबाज दीपक चाहर की कमी खल रही है, जिन्होंने पिछले तीन सीजन में नई गेंद से 32 विकेट चटकाए थे। लेकिन इस सीजन में वे अभी चोट के चलते टीम से बाहर हैं। चेन्नई को अभी चाहर का रिप्लेसमेंट नहीं मिल पाया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.