सीतापुर जेल में सपा नेता आजम खां की हालत फिर बिगड़ी ऑक्‍सीजन लेवल हुआ डाउन स्थिति ठीक नहीं लखनऊ के लिए रेफर किया

0 151

लखनऊ : सपा के वरिष्ठ नेता आजम खां का तबियत फिर खराब हो गई है। बताया जा रहा है कि उनका ऑक्सीजन लेवल 88 पहुंच गया है। जिला अस्पताल के डाक्टर आजम खां स्वास्थ्य परीक्षण को जेल में पहुंचे हैं। उनका आक्सीजन लेवल डाउन हुआ है। फिलहाल अभी जेल में ही सपा सांसद का स्वास्थ्य परीक्षण चल रहा है। जेल अधीक्षक सुरेश कुमार सिंह ने बताया कि अभी वह डाक्टरों से बातचीत कर सपा सांसद का हाल जानेंगे। उसके बाद उनके भर्ती कराने के संबंध में डाक्टर की सलाह पर निर्णय लेंगे

लखनऊ के मेदांता अस्पताल में कोरोना से जंग जीत कर अभी कुछ दिन पहले ही रामपुर से सपा सांसद आजम खां और उनका बेटा अब्दुल्ला जिला कारागार में वापस लौट आए हैं। बुजुर्ग सांसद का सोमवार सुबह आक्सीजन लेवल फिर से कम हो गया है। उनकी तबीयत खराब है। जेल अस्पताल की सलाह पर कारागार प्रशासन ने जिला अस्पताल के डाक्टरों को बुलाया है। एसडीएम सदर अमित भट्ट और सीओ सिटी पीयूष कुमार सिंह भी मौके पर पहुंच गए हैं। जिला अस्पताल के डाक्टरों की टीम भी जिला कारागार में पहुंचकर सपा सांसद के स्वास्थ्य परीक्षण में सक्रिय हो गई है।

सांसद आजम खान का आक्सीजन लेवल 88 प्रतिशत होना बताया जा रहा है। उधर जेल अधीक्षक सुरेश कुमार सिंह ने बताया कि बुजुर्ग सपा सांसद का डाक्टर स्वास्थ्य परीक्षण कर रहे हैं। उनका आक्सीजन लेवल कम हो गया है। परीक्षण के बाद यदि डॉक्टर सांसद को भर्ती कराने की सलाह देते हैं तो जेल प्रशासन भर्ती कराएगा। जेल अधीक्षक ने बताया कि कुछ ही दिन पहले आजम खां लखनऊ के मेदांता अस्पताल से कोरोना का इलाज कराने के बाद लौटे हैं। उन्हें अभी कमजोरी है। शरीर बुजुर्ग होने के कारण उनका स्वास्थ्य खराब हुआ है। आक्सीजन लेवल घटा है।

95 दिन तक चला था कोरोना का इलाज: बता दें कि सप्‍ताह भर पूर्व ही स्वस्थ होने के बाद रामपुर से सपा सांसद आजम खां और उनके बेटे अब्दुल्ला मंगलवार को जिला कारागार वापस आए थे। वह लखनऊ में करीब 95 दिन तक भर्ती रहे। लखनऊ अस्पताल में उनका इलाज चला। 13 जुलाई की सुबह आजम और उनके बेटे को एंबुलेंस से लखनऊ के मेदांता अस्पताल से सकुशल जिला कारागार लाया था। जिला कारागार में रामपुर सांसद और उनके पुत्र एंबुलेंस से मंगलवार दोपहर पहुंचाए गए थे।

वह लखनऊ के मेदांता अस्पताल में भर्ती थे। आजम खां अप्रैल की शुरुआत महीने में कोरोना से संक्रमित हो गए थे। जिला कारागार में उच्च सुरक्षा बैरक में आजम खां के साथ ही विरुद्ध उनका बेटा अब्दुल्ला भी कोरोना से संक्रमित हो गए थे। पिता-पुत्र के संक्रमित होने के बाद जिला प्रशासन ने शासन की अनुमति से लखनऊ के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया था। वही लखनऊ के अस्पताल में उनका 95 दिन तक इलाज चला। सांसद और उनके बेटे के स्वस्थ होने के बाद मंगलवार सुबह जिला प्रशासन को सूचना प्राप्त हुई। सांसद और उनके बेटे के स्वस्थ होने के बाद मंगलवार सुबह जिला प्रशासन को सूचना प्राप्त हुई। सांसद और उनके बेटे को कड़ी सुरक्षा के बीच पुन: जिला कारागार लाया गया था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.