भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ी स्वच्छ जल योजना, प्रस्तावित धनराशि में हुआ बंदरबांट

0 199

पुरवा,उन्नाव :  कई लाख रुपये खर्च कर नगर वासियों को स्वच्छ पानी उपलब्ध कराने की योजना पर पानी फिरता देख जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति के सदस्य बालशंकर त्रिपाठी की मुहिम का असर अब साफ साफ दिखाई पड़ रहा है।बाद शिकायत जल निगम के अधिकारियों ने कमियों को दूर कर डेढ़ माह के अंदर जलापूर्ति का विश्वास दिलाया था सनद रहे कि कस्बे के मोहल्ला जोतपुर में कई लाख खर्च कर लोगों के लिए स्वच्छ जल उपलब्ध कराने के एवज में सम्बंधित विभाग के जिम्मेदारों ने ऐसी लूट की कि टँकी का निर्माण तो जैसे तैसे पूरा हो गया मगर जलापूर्ति से पहले घोटाला बेनकाब हो गया घटिया निर्माण इस तरह हुआ कि सम्बंधित कार्यदायी संस्था ने नगर पंचायत को हैंडओवर करने से पहले गायब हो गई उल्लेखनीय है कि पेयजल योजना का लाभ लोगों को मिले और कमियों को दूर कर जलापूर्ति समय से हो व योजना की आड़ में किया गया

घोटाला उजागर हो पूर्व सांसद प्रतिनिधि एवं जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति के सदस्य बालशंकर त्रिपाठी ने समिति की बैठक में सवाल उठाया था नतीजा जल निगम के सहायक अभियंता महेश बाबू धनगर,अवर अभियंता सुभाष चन्द्र ने निरीक्षण कर आज अधिशाषी अधिकारी केएन पाठक के समक्ष त्रिपाठी को आश्वस्त किया कि 15 दिसम्बर तक नगरवासियों को स्वच्छ जल मिलने लगेगा।नगर पंचायत कार्यालय में हुई मीटिंग में एमएलसी अरुण पाठक के प्रतिनिधि मनीष तिवारी,जिला मंत्री भाजपा डॉ0रजनीश वर्मा के सामने अधिकारियों के आश्वसन बाद लोगों को शुद्ध पानी मिलने की संभावनाएं बढ़ गई है।जनसमस्या के समाधान को लेकर त्रिपाठी द्वारा किये गए प्रयास की सराहना की जा रही है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.