दो दिनों की खामोशी के बाद फिर गरजे बादल, इन शहरों में बारिश के आसार

0 230

लखनऊ : दो दिनों के ब्रेक के बाद उत्तर प्रदेश के कई जिलों में एक बार फिर मौसम ने करवट ली है। 7 और 8 मई को प्रदेश में कहीं भी बारिश नहीं हुई, लेकिन बीते कल यानी शनिवार से मौसम बदलना शुरू हो गया है। आगरा और उसके आसपास के जिलों में शनिवार को आंधी और बारिश का सिलसिला जारी रहा। आज रविवार को इसने अपने पैर प्रदेश के कई और जिलों में पसार लिए हैं।

मौसम विभाग के ताजा अनुमान के मुताबिक लखीमपुर खीरी, बहराइच, सीतापुर, चित्रकूट, कौशांबी, कानपुर, हमीरपुर, फतेहपुर, बांदा, उन्नाव और इलाहाबाद में आंधी और बारिश की संभावना जताई गई है. इन जिलों में अगले कुछ घंटों में मौसम बदल जायेगा। इस दौरान 40 से 70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से धूल भरी आंधी भी चलने की आशंका है। मौसम में बदलाव का यह सिलसिला अगले दो-तीन दिनों तक प्रदेश में जारी रहेगा। इस दौरान प्रदेश के अलग-अलग जिलों में आंधी और बारिश की संभावना मौसम विभाग ने जताई है।

बता दें कि मई का पहला हफ्ता प्रदेश के कई जिलों में आंधी और बारिश लेकर आया था। लेकिन 7 और 8 मई को 2 दिन प्रदेश में कहीं बारिश नहीं हुई लेकिन अब यह सिलसिला फिर शुरू हो गया है। वैसे तो यह महीना जेठ का चल रहा है जो अपनी भीषण गर्मी के लिए जाना जाता है लेकिन आंधी और बारिश के कारण तापमान में बढ़ोतरी नहीं हो पा रही है, और लोगों को गर्मी से राहत मिल रही है।

मौसम में ये बदलाव क्योंये चर्चा का विषय बन गया है। दिल्ली स्थित मौसम विज्ञान विभाग के वरिष्ठ वैज्ञानिक आनन्द शर्मा ने बताया कि अप्रैल के महीने में और अभी तक मई में एक बार भी तापमान इतना ऊंचा नहीं पहुंचा। जितना पिछले सालों में पहुंच जाया करता था। इसके पीछे ब़ड़ी वजह पश्चिमी विक्षोभ का लगातार सक्रिय रहना है। सिर्फ अप्रैल के महीने में ही सात बार पश्चिमी विक्षोभ का असर देखने को मिला। ये सिलसिला जारी है। लखनऊ स्थित मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया कि कमोबेश ऐसा ही मौसम अगले एक हफ्ते तक जारी रहेगा। यानी 15 मई तक प्रदेश में तापमान नहीं बढ़ेगा क्योंकि रूक-रूक कर बारिश और आंधी चलती रहेगी

Leave A Reply

Your email address will not be published.