पर्ची होने के बाद भी रामपुर में मुस्लिम महिलाओं को वोट डालने से रोका गया

0

यूपी : रामपुर लोकसभा उपचुनाव में जारी मतदान को प्रभावित करने के उद्देश्य से विधानसभा स्वार के दरयाल इलाके में महिला मतदाताओं के पास वोटर पर्ची होने के बावजूद उन्हें वोट डालने से रोकने और पर्ची छीनने की घटना,निंदनीय। जिस घटना को लेकर समाजवादी पार्टी ने एक वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया है। जिसमे देखा जा सकता है मुस्लिम महिलाएं किस तरह विरोध कर रही है उनका आरोप है कि उन्हें मतदान नहीं डालने दिया गया।

अधिकारीयों की कहानी विश्वास से परे :

गौरतलब है कि कल रात को रामपुर पुलिस की ओर से बताया गया कि चार लोगों को सैकड़ों फर्जी आधार कार्ड के साथ पकड़ा गया था। पकड़े गए लोगों पर आरोप हैं कि उन्होंने शहर में सैकड़ों की संख्या में फर्जी आधार कार्ड का बनाए हैं। और वितरित किए हैं।चुनाव आयोग की ओर से मतदान के जारी की गई प्रमाण पत्रों की सूची के मुताबिक, मतदाता सूची में नाम होने पर कोई मतदाता आधार कार्ड लेकर वोट डालने जा सकता है लेकिन इस कहानी पर विश्वास करना मुश्किल है क्यूंकि मुस्लिम क्षेत्र में ही क्या फर्जी आधार कार्ड पकड़े गए। फिर मतदान के एक दिन पहले ही ऐसा क्यों ? वोट डालने के लिए आधार के अलावा पासबुक और अन्य दस्तावेज भी मान्य है ऐसे किसी को मतदान डालने से रोकने का मामले गंभीर है।

गौरतलब है रामपुर के सीओ और सिटी मजिस्ट्रेट ने शहर के रजा डिग्री कॉलेज पहुंचकर लोगों को आधार कार्ड के जरिए वोट डालने से रोक दिया। पूरे मामले पर सीओ अनुज कुमार चौधरी ने कहा कि कल रात शहर में कुछ लोगों को फर्जी आधार कार्ड के साथ पकड़ा गया है, जिसके कारण प्रशासन की ओर से यह फैसला लिया गया है। लेकिन अब अधिकारियो की ये कहानी विश्वास से परे है। क्यूंकि आधार कार्ड के अलावा अन्य दस्तावेज भी वोट के लिए प्रयोग कर सकते है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

en_USEnglish