लखनऊ के कैसरबाग स्थित मरकजी मस्जिद में मिले कई विदेशी नागरिक

0

दिल्ली के निजामुद्दीन मे तब्लीगी मरकज में शामिल रहे लोगों की तलाश शुरू

लखनऊ। दिल्ली के निजामुद्दीन में तब्लीगी जमात के मरकज ने देश भर में हड़कंप मचा गया है। लाॅकडाउन के बीच इस हुए इस मरकज में देश और दुनिया से करीब 1800 लोग शामिल हुए। जिनमें अब कोरोना संक्रमण की पुष्टि हो रही है। मरकज में शिरकत करने वाले 9 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि दिल्ली में सैकड़ों संक्रमित लोगों को अस्पतालों में क्वारंटाइन किया गया है। वहीं इस तब्लीगी मरकज में शामिल रहे सैकड़ों लोगों की तलाश भी शुरू हो गयी है।

मंगलवार को सूचना मिली कि जमात के कुछ लोग लखनऊ के कैसरबाग में एक मरकजी मस्जिद में ठहरे हुए हैं। सूचना मिलते ही जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश और पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने मौके पर पहुंच कर इन लोगों से पूछताछ की। यहां करीब आधा दर्जन विदेशी नागरिक मिले है।

इनमें किर्गिस्तान और कजाकिस्तान के नागरिक बताए जा रहे हैं। अधिकारियों ने सभी विदेशी नागरिकों का मेडिकल चेकअप कराकर क्वारंटाइन करने का निर्देश दिया है। यह सभी यहां पिछले 13 मार्च से रुके हैं। पता चला कि ये विदेशी नागरिक एक धार्मिक जलसे में भाग लेने आए थे। खुफिया और एलआईयू की सूचना के बाद पुलिस प्रशासन की टीमें मस्जिद पहुंच गई हैं।

आमीनाबाद, मड़ियांव और काकोरी में भी विदेशी नागरिकों की खोज

वहीं दूसरी ओर अमीनाबाद, मड़ियांव और काकोरी इलाके की मस्जिदों में भी कई विदेशी नागरिकों के रुके होने की खबर है। मंडियांव में 17 बांग्लादेशी नागरिकों के रुके होने की सूचना मिली है। बता दें कि सरकार के पास सूचना है कि दिल्ली में हुई तब्लीगी मरकज में यूपी के करीब 20 लोग शामिल रहे हैं। पुलिस सूत्रों के अनुसार पता चला है कि ये 20 लोग अभी तक लखनऊ नहीं लौटे हैं, ये अभी नई दिल्ली में ही हैं

Leave A Reply

Your email address will not be published.