तेलंगाना ने स्पेसटेक फ्रेमवर्क लॉन्च किया

0 31

हैदराबाद : तेलंगाना सरकार ने अपना स्पेसटेक फ्रेमवर्क लॉन्च किया, जिसका उद्देश्य राज्य को अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी में विश्व स्तर पर मान्यता प्राप्त वन-स्टॉप डेस्टिनेशन के रूप में स्थापित करना है। इसका उद्देश्य केंद्र सरकार द्वारा हाल ही में किए गए सुधारों के अनुरूप अंतरिक्ष उद्योग में निजी भागीदारी को प्रोत्साहित करना है। यह देखते हुए कि अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी राज्य का अगला फोकस क्षेत्र है, तेलंगाना के आईटी, उद्योग और एमएयूडी मंत्री के.टी. रामा राव ने कहा कि स्पेसटेक उद्योग में निजी क्षेत्र की बढ़ती भागीदारी का समर्थन करने वाले राष्ट्रीय सुधारों के साथ

तेलंगाना उस नवाचार का समर्थन करेगा जो होने वाला है। मंत्री ने कहा कि अतीत में, हमने कई विदेशी निजी कंपनियों को तकनीकी प्रगति के साथ दुनिया को अचरज में डालते देखा है, लेकिन उनमें से अधिकांश को भारतीय वैज्ञानिकों और इंजीनियरों ने बनाया है। लेकिन अब, समय है कि भारतीयों द्वारा विकसित तकनीक का निर्माण किया जाए। देश और फिर विश्व स्तर पर निर्यात किया जाय। समय आ गया है कि हम अंतरिक्ष उद्योग के एक बड़े हिस्से पर कब्जा कर लें, जिसके 2026 तक 558 बिलियन डॉलर तक बढऩे की उम्मीद है।

यह कार्यक्रम मेटावर्स पर आयोजित किया गया, जिससे यह भारत में इस तरह का पहला आधिकारिक कार्यक्रम बन गया।लॉन्च इवेंट के लिए प्रमुख गणमान्य व्यक्तियों के कस्टम अवतार के साथ-साथ एक अंतरिक्ष-थीम वाले मेटावर्स वातावरण को कस्टम विकसित किया गया। नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत, इसरो अध्यक्ष सोमनाथ एस और आईएन एसपीएसी अध्यक्ष पवन गोयनका ने भी समारोह में भाग लिया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.