भारत सरकार द्वारा प्रदेश में फोरेंसिक साइंस के सेन्टर आफ एक्सिलेंस की स्थापना में हर सम्भव सहयोग  आश्वासन दिया गया,

0 108

 

 
आबकारी विभाग में ट्रैक एवं ट्रेस प्रणाली को और सुदृढ़ करने के निर्देश 

लखनऊ:  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  ने एम0एस0पी0 के तहत धान खरीद कार्य को पूरी तेजी से संचालित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि क्रय किए गए धान का सुरक्षित भण्डारण सुनिश्चित की जाए। धान क्रय केन्द्रों पर शेड की भी व्यवस्था की जाए, जिससे धान कोहरे आदि से प्रभावित न हो। उन्होंने धान क्रय केन्द्रों पर सुरक्षा के प्रबन्ध किए जाने के निर्देश भी दिए।

मुख्यमंत्री  आज यहां लोक भवन में आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में विभिन्न विभागों के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने निर्देश दिए कि बर्ड फ्लू के दृष्टिगत पूरी सतर्कता बरती जाए। उन्होंने कहा कि बरेली स्थित भारतीय पशु चिकित्सा अनुसंधान संस्थान (आई0वी0आर0आई0) को वर्तमान में सौपे गए कोविड-19 से सम्बन्धित दायित्वों से मुक्त कर दिया जाए, जिससे यह संस्थान केवल बर्ड फ्लू की जांच पर पूरा ध्यान केन्द्रित कर सके।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि जनपद प्रयागराज में शीतकाल में प्रतिवर्ष प्रवासी पक्षियों का आगमन होता है। वर्तमान में वहां माघ मेला आयोजित होने वाला है। ऐसे में माघ मेले के दौरान बर्ड फ्लू के दृष्टिगत विशेष सतर्कता बरतने की आवश्यकता है। उन्होंने प्रयागराज मेला प्राधिकरण को निर्देशित किया कि वह इसका व्यापक प्रचार-प्रसार करें कि श्रद्धालु पक्षियों को दाना आदि न खिलाएं।

मुख्यमंत्री  ने कहा कि पशुओं को खुरपका और मुंहपका बीमारियों से बचाने के लिए प्रदेश में पशु टीकाकरण का अभियान वृहद स्तर पर संचालित किया जा रहा है। उन्होंने इस कार्य को पूरी सक्रियता से जारी रखने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री  ने कहा कि प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले प्रदेश के छात्र-छात्राओं को निःशुल्क कोचिंग की सुविधा प्रदान की जाएगी। उन्होंने इसके अन्तर्गत प्रारम्भिक चरण में यू0पी0एस0सी0 द्वारा संचालित सिविल सेवा परीक्षा के लिए निःशुल्क कोचिंग संचालित किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस सुविधा से प्रदेश के युवा इस परीक्षा में स्वयं को अग्रिम पंक्ति में पाएंगे। इस प्रतिष्ठित परीक्षा में राज्य के अधिक से अधिक युवाओं का चयन उन्हें देश व प्रदेश के विकास में अपना योगदान करने का अवसर प्रदान करेगा।

मुख्यमंत्री  ने कहा कि भारत सरकार द्वारा प्रदेश में फोरेंसिक साइंस के सेन्टर आॅफ एक्सिलेंस की स्थापना में हर सम्भव सहयोग का आश्वासन दिया गया है। उन्होंने इस सम्बन्ध में सभी प्रक्रियाओं को समय से पूरा करने के निर्देश दिए।

 

मुख्यमंत्री  ने कहा कि आबकारी विभाग में विभिन्न कार्यों की बेहतर माॅनिटरिंग के लिए ट्रैक एवं ट्रेस प्रणाली लागू की गई हैं। उन्होंने ट्रैक एवं ट्रेस प्रणाली को और सुदृढ़ करने के निर्देश दिए।

इस अवसर पर स्वास्थ्य राज्य मंत्री  अतुल गर्ग, मुख्य सचिव  आर0के0 तिवारी, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त  आलोक टण्डन, कृषि उत्पादन आयुक्त  आलोक सिन्हा, अपर मुख्य सचिव गृह  अवनीश कुमार अवस्थी, पुलिस महानिदेशक  हितेश सी0 अवस्थी, अपर मुख्य सचिव राजस्व  रेणुका कुमार, अपर मुख्य सचिव वित्त  संजीव मित्तल, अपर मुख्य सचिव एम0एस0एम0ई0 एवं सूचना  नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री एस0पी0 गोयल, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य  अमित मोहन प्रसाद, अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा डाॅ0 रजनीश दुबे, अपर मुख्य सचिव पंचायतीराज एवं ग्राम्य विकास  मनोज कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव कृषि  देवेश चतुर्वेदी, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना संजय प्रसाद, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य  आलोक कुमार, प्रमुख सचिव पशुपालन  भुवनेश कुमार, सचिव मुख्यमंत्री  आलोक कुमार, सूचना निदेशक  शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.