बुजुर्ग पिता को बेटों ने ही दिया धोखा, बैंक खाते से निकाले डेढ़ लाख रुपये

0 15

मेरठ : मां की मौत के बाद बैंक खाते में नोमिनी बुजुर्ग पिता को धोखे में रखकर दो बेटों ने खाते से डेढ़ लाख रुपये निकाल लिए। पीड़ित पिता को पता चला तो स्वजन भी हैरान रह गए। बुजुर्ग पिता ने प्रकरण की तहरीर सीओ दौराला को दी। सीओ ने आरोपित दोनों बेटों को बुलाकर उनके बयान दर्ज किए, जिसमें उन्होंने बैंक से रुपये निकलाने की बात स्वीकार कर माफी मांगी।यह है पूरा मामला दौराला थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी बुजुर्ग ने पुलिस को बताया कि उनकी पत्नी के खाते में करीब सवा दो लाख रुपये थे।

अपनी पत्नी के बैंक खाते के दस्तावेजों में नोमिनी बुजुर्ग ही थे। वृद्ध महिला की मौत के बाद खाते में जमा रकम पर नोमिनी का हक हो गया था। मगर, नोमिनी बुजुर्ग पिता का खाता नहीं था। जिसके बाद दो बेटों ने उसी बैंक में अपने बुजुर्ग पिता का खाता खुलवा दिया। खाते में बेटे ने अपना मोबाइल नंबर जुड़वा दिया। साथ ही एटीएम कार्ड भी लिया, जिसमें मोबाइल नंबर इसी बेटे ने जुड़वाया। उसके दो माह के भीतर बुजुर्ग के खाते से करीब डेढ़ लाख रुपये कई हिस्सों में निकाल लिए गए।

ऐसा पता चला सभी रुपये एटीएम के जरिये निकाले गए हैं। रुपये निकालने का मैसेज भी बेटे के मोबाइल पर ही आता था, जिसका बुजुर्ग पिता को पता नहीं चल पाया। तीन दिन पूर्व बुजुर्ग पिता रुपये निकालने बैंक पहुंचे, जहां पता चला कि डेढ़ लाख रुपये खाते से निकल चुका है। यह सुनकर पिता के होश उड़ गए। गांव पहुंचकर स्वजन को प्रकरण बताया।

सख्‍ती से पूछताछ पर बात स्‍वीकार की दोनों बेटों पर पिता को शक हो गया। पूछने के बाद भी बेटों ने रुपये निकलाने की हामी नहीं भरी जिसके बाद पीड़ित पिता ने सीओ दौराला दफ्तर में प्रार्थना पत्र दिया। पुलिस ने दोनों बेटों को बुलाकर सख्ती से पूछताछ की तो उन्होंने रुपये निकलाने की बात स्वीकार की। सीओ दौराला का कहना है कि बयानों के आधार पर आरोपितों पर कार्रवाई की जाएगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.